Budget Notes For SSC CHSL and Railway Exams 

प्रिय विद्यार्थियों एसएससी सीएचएसएल 4 मार्च से 26 मार्च 2018 तक आयोजित किया जायेगा. जैसा कि हमने एसएससी सीजीएल, स्टेनोग्राफर, एसएससी सीएचएसएल जैसे एसएससी परीक्षाओं से विश्लेषण किया है,  अर्थशास्त्र और विषय से संबंधित प्रश्न पूछे जाते हैं. इसलिए, एसएससी सीएचएसएल और रेलवे 2018 परीक्षा में इनसे सम्बंधित प्रश्न पूछे जायेंगे. इसलिए हम आपको अर्थशास्त्र पर कुछ विषयवार नोट प्रदान कर रहे हैं. इन सभी तथ्यों से संबंधित नोट्स पढ़ें तो निश्चित रूप से आप इन सभी परीक्षाओं में अच्छा स्कोर करेंगे. SSC CHSL 2018 के लिए शुभकामनाएं. 



Adda247 पर हमने आप सभी के लिए SSC परीक्षा के सभी विषयों पर Free PDFs प्रदान कर रहे हैं, जिससे आपकी तैयारी और बेहतर तरीके से हो पाएगी. चूंकि एसएससी परीक्षा बहुत प्रतिस्पर्धी और चुनौतीपूर्ण है, तो आप सभी क बहुत मेहनत करने की आवश्यकता है. हमारे मुख्य रूप से तैयार किए गए मुफ्त Pdfs और मुफ्त मोक टेस्ट आपकी SSC CHSL 2018 तैयारी में आपकी बहुत सहायता करेंगे. यह मुफ्त PDFs नए प्रारूप के अनुसार तैयार किए गए हैं आप सभी को परीक्षा SSC CHSL 2018 के प्रारूप से अवगत होना चाहिए यह बहुत ही महत्वपूर्ण चीज है. ADDA247 आपके लिए ला रहा है मुफ्त मोक टेस्ट जो की नए प्रारूप और विगत वर्षों के प्रश्नों पर आधारित है. इस पोस्ट में, आप मुफ्त PDFs डाउनलोड कर सकते हैं. आप सभी को आपकी परीक्षा के लिए शुभकामनाएं.

KEY POINTS ON UNION BUDGET

In a parliamentary democracy like India, where the Constitution is the supreme document with defined roles for the government to function effectively, it is imperative for the government to work for the welfare of the state and its citizens. To discharge these functions effectively and upgrade the country’s economic and social structure, the government requires adequate resources.
(भारत जैसे संसदीय लोकतंत्र में, जहां संविधान प्रभावी ढंग से कार्य करने के लिए निर्धारित भूमिकाओं के साथ एक सर्वोच्च संलेख है, सरकार और उसके नागरिकों के कल्याण के लिए काम करना सरकार के लिए जरूरी है. इन कार्यों को प्रभावी ढंग से निर्वहन करने के लिए और देश की आर्थिक और सामाजिक संरचना को अपग्रेड करने के लिए, सरकार को पर्याप्त संसाधनों की आवश्यकता होती है).

अनुच्छेद 112: A statement of estimated receipts and expenditure of Govt. of India has to be laid before the parliament.(सरकार की अनुमानित रसीदों और व्यय का बयान भारतीय संसद के समक्ष रखा जाना है.)

अनुच्छेद 77 (3): The Union Finance Minister of India has been made responsible by the President of India to prepare the annual financial statement and present it in Parliament.
(भारत के केंद्रीय वित्त मंत्री को भारत के राष्ट्रपति द्वारा वार्षिक वित्तीय विवरण तैयार करने और संसद में पेश करने के लिए उत्तरदायी बनाया गया है.)




You may also Like to Read :



CRACK SSC CGL 2017



More than 2400+ Candidates were selected in SSC CGL 2016 from Career Power Classroom Programs.


9 out of every 10 candidates selected in SSC CGL last year opted for Adda247 Online Test Series.